Home » पाकिस्तान के खिलाफ आक्रामक रवैया जारी रखेगी इंग्लैंड : मैकुलम

पाकिस्तान के खिलाफ आक्रामक रवैया जारी रखेगी इंग्लैंड : मैकुलम

by Bhupendra Sahu

रावलपिंडी । इंग्लैंड टेस्ट टीम के कोच ब्रेंडन मैकुलम ने कहा कि उनकी टीम पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज में आक्रामक रवैये के साथ खेलना जारी रखेगी। मैकुलम ने पाकिस्तान आने के बाद अपनी पहली संवाददाता सम्मेलन में कहा, घर से दूर जाकर जीतना सबसे बड़ी उपलब्धि है जिसे आप एक टेस्ट खिलाड़ी और एक टेस्ट टीम के रूप में हासिल कर सकते हैं। हम समझते हैं कि हम किस चुनौती का सामना कर रहे हैं, लेकिन यह अच्छा है। आप इसीलिए तो खेलना चाहते हैं। आप आसान चुनौतियां नहीं चाहते हैं। मैं वास्तव में उत्साहित हूं। मुझे नहीं पता कि हम सीरीज जीतेंगे या नहीं, लेकिन मैं दावा कर सकता हूं कि जब कप्तान (बेन स्टोक्स) 48 घंटे में यहां आयेंगे तो वह कहेंगे कि सीरीज में कोई ड्रॉ नहीं होगा।

इंग्लैंड 17 साल बाद पाकिस्तान में टेस्ट सीरीज खेलने जा रही है और यह बतौर कोच मैकुलम का पहला विदेशी दौरा भी है। मैकुलम-स्टोक्स की अगुवाई में इंग्लैंड ने खेल के सबसे लंबे प्रारूप में अपना रवैया बदला है, और उन्हें पिछले सात में से छह मुकाबलों में जीत भी मिली है।
मैकुलम ने कहा, हम निश्चित रूप से मैच को परिणाम तक पहुंचाने के लिये जोर देंगे। यह हमारा दायित्व है कि लोग मैच का आनंद लेकर लौटें। अगर हम हार जाते हैं, तो हमें पता होगा कि पाकिस्तान हमसे बेहतर खेला। मुझे उम्मीद है कि हम अच्छा खेलेंगे और अगर हम हार जाते हैं तो भी ठीक है। हम अवसर, चुनौती और आतिथ्य का इंतजार कर रहे हैं। उम्मीद है कि कुछ हफ्तों में हर कोई कहेगा कि यह एक अद्भुत शृंखला रही है।

पाकिस्तान और इंग्लैंड एक दिसंबर को रावलपिंडी में तीन मैचों की टेस्ट शृंखला की शुरुआत करेंगे। सीरीज के अगले दो मैच मुल्तान और कराची में क्रमश: नौ और 17 दिसंबर से खेले जायेंगे।
उन्होंने कहा, खिलाड़ी पहले ही कह चुके हैं कि वे यहां खचाखच भरे स्टेडियम में खेलने को लेकर काफी उत्साहित हैं। यह एक अच्छा माहौल होने जा रहा है, इसलिये वे वास्तव में उत्साहित हैं। हम दुनिया भर में टेस्ट क्रिकेट से यही चाहते हैं, स्टेडियम खचाखच भरे रहें और प्रशंसक अपनी स्थानीय टीम का समर्थन कर रहे हैं। सड़कों पर इस माहौल का होना सबसे बड़ी प्रशंसा है। हम भाग्यशाली हैं कि यहां स्टेडियम बिक गये हैं और हम यही चाहते हैं। कप्तान चाहता है कि वह रॉकस्टार बनें और एक रॉकस्टार बनने के लिये आपको भरे स्टेडियमों के सामने खेलना होता है। हमारे पास ऐसा करने का अवसर है।
जब मैकुलम से पूछा गया कि क्या इंग्लैंड घरेलू सीजन की तरह ही खेलेगी, तो उन्होंने स्वीकार किया कि खेल में कुछ बदलाव किये जायेंगे।
उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि (मैच के दौरान) हम पता लगा लेंगे कि खेल कैसा होने वाला है। हम जो कुछ करने की कोशिश करते हैं और करते हैं, वह परिस्थितियों के अनुरूप होता है लेकिन अगर हमें आक्रामक क्रिकेट खेलने का मौका दिया जाता है, तो हम कोशिश करेंगे और वह रास्ता अपनायेंगे।
00

Share with your Friends

Related Articles

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More